Sunday April 30,2017

क्रेडिट कार्ड उपयोग में ध्यान ऱखने की अहम बातें

Published Nov 13, 2016   विवेक रस्‍तोगी  

बड़े नोटों के बंद होने से बहुत से लोगों को खुले पैसों की दिक्कत हो गई है और अब अधिकतर लोग क्रेडिट कार्ड का उपयोग अपनी खरीददारी में कर रहे हैं। बहुत से लोगों ने क्रेडिट कार्ड ले जरूर रखे थे लेकिन उसका उपयोग नहीं कर रहे थे। क्रेडिट कार्ड जब हम अपनी खरीददारी में उपयोग करते हैं तो दर्द कम होता है, क्योंकि उस समय आप जाने वाले नगद को देख नहीं पाते हैं। यही दर्द का मनोविज्ञान तब काम करता है जब आप किसी को अपने बटुए से नगद निकाल कर दे रहे होते हैं। क्रेडिट कार्ड का उपयोग करना जब भी शुरू करें और जब क्रेडिट कार्ड उपयोग करें तब कुछ बातों को अपने दिमाग में हमेशा के लिए ध्यान में रखें।

क्रेडिट कार्ड उपयोग में ध्यान ऱखने की बातें :

क्रेडिट कार्ड के क्रेडिट याने कि उधार को अगले महीने भर देंगे : जब आप क्रेडिट कार्ड से खरीददारी करते हैं तो उसका एक निश्चित मासिक बिलिंग चक्र होता है और उसमें आपको भरने के लिए दो तरह की राशि लिखी होती हैं। पहली होती है पूरी रकम जो कि बकाया है और दूसरी उस रकम का 5 प्रतिशत जो कि कम से कम आपको भरना होता है। 5 प्रतिशत भरने से आपको बाकी की बकाया राशि को भरने की एक महीने की मोहलत मिल जाती है, जिसके लिए बैंक आपसे 3-4 प्रतिशत मासिक तक का ब्याज वसूलते हैं। कोशिश करें कि आप अपनी पूरी बकाया रकम हर महीने की बिल की आखिरी तारीख से पहले ही भर दें। अगर आप हर महीने क्रेडिट कार्ड पर खरीदी करते जाएंगे और केवल 5 प्रतिशत बिल का भरते जाएंगे तो आप अपनी बकाया रकम बढ़ाते जाएंगे। इस तरह से आप पूरी तरह से क्रेडिट कार्ड कंपनी के जाल में फंस चुके होंगे।

ब्याज मुक्त समय आपके बकाया पर हर बार नहीं होता है : साधारणतया: लोग यही जानते हैं कि क्रेडिट कार्ड पर खरीदी करो तो हर खरीदी पर ब्याज मुक्त समय मिलता है, याने कि कम से कम 18 दिन और अधिकतम 50 दिन। लेकिन ब्याज मुक्त तभी होता है जबकि आपने अपने पिछले पूरे बिल को भर दिया हो और आपकी बकाया रकम शून्य हो। अगर आपने पिछले महीने का बकाया नहीं भरा है याने कि केवल 5 प्रतिशत भरा है तो आपको अगले महीने की करी गई खरीदी पर ब्याज मुक्त समय नहीं मिलेगा, बिल के शुरूआती दिन से ही उस रकम पर भी आपको 3-4 प्रतिशत की दर से ब्याज लगना शुरू हो जाएगा।

क्रेडिट कार्ड से क्रेडिट कम लें : ऐसे बहुत से लोग हैं जो एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड रखते हैं, और कुछ लोग तो बहुत ही सारे क्रेडिट कार्ड रखते हैं। हमेशा कोशिश करें कि आप अपने क्रेडिट कार्ड की क्रेडिट लिमिट का 50 प्रतिशत से ज्यादा उपयोग न करें। आप इसके लिए मोबाइल या ईमेल पर अलर्ट करने के लिये सैट कर सकते हैं। जिससे कि आपको अपनी क्रेडिट कार्ड की लिमिट का पता चलता रहे, वैसे तो आजकल अधिकतर क्रेडिट कार्ड में जब भी आप खरीददारी करते हैं तो खरीददारी की रकम के साथ ही उपलब्ध क्रेडिट लिमिट भी आ जाती है। ध्यान रखें कि क्रेडिट कार्ड अपने सारे ट्रांजेक्शन और हिस्ट्री सिबिल से शेयर करते हैं। क्रेडिट कार्ड पर अधिक बकाया या क्रेडिट लिमिट अधिक उपयोग करने की दशा में आपके क्रेडिट स्कोर पर बुरा असर पड़ता है और आगे ऋण लेने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस स्थिति को क्रेडिट हंगर कहा जाता है।

क्रेडिट कार्ड से नगद निकालने से बचें : क्रेडिट कार्ड से नगद निकालने की स्थिति में निकाली गई रकम पर किसी भी प्रकार का ब्याज मुक्त समय नहीं होता है, निकाले गए दिन से ही उस रकम पर ब्याज लगना शुरू हो जाता है और साथ ही नगद निकासी पर एक बार का शुल्क भी लागू होता है। और ब्याज तब तक चलता रहता है जब तक कि आप उस रकम को वापिस क्रेडिट कार्ड कंपनी को चुका नहीं देते हैं।

रिवार्ड पाइंट की असलियत : ज्यादा रिवार्ड पाइंट इकठ्ठे करने के लिए लोग अधिक खर्च करने लगते हैं और यह भी क्रेडिट कार्ड व्यापार में कार्ड बेचने का एक मुख्य हथियार है। जितने रूपयों की आप खरीदी करेंगे उसके बदले में क्रेडिट कार्ड कंपनी आपको कुछ रिवार्ड पाइंट देती है। जैसे कि हर 100 रूपयों पर एक पाइंट और अधिक खर्च करने पर उसके अनुपात में ही या फिर दो या चार पाइंट तक मिल सकते हैं। एक रिवार्ड पाइंट की कीमत साधारणतया 25 पैसे से 50 पैसे के बीच होती है। कुछ कार्ड कंपनियाँ अपने रिवार्ड पाइंट से पेट्रोल खरीदने का भी मौका देती हैं नहीं तो कुछ उपहार ले सकते हैं। ज्यादा रिवार्ड पाइंट बनाने के लिये कभी भी क्रेडिट कार्ड पर ज्यादा खरीददारी न करें।

कोशिश करें कि आप अपने क्रेडिट कार्ड खाते को अपने बचत खाते से जोड़ दें जिससे कि अपने आप नियत तिथि पर क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान हो जाए और आपको किसी भी प्रकार की देर से भुगतान के शुल्क या ब्याज न देना पड़े। वहीं 5 प्रतिशत पूरी बकाया रकम का भुगतान करने का भी ऑप्शन होता है, परंतु कोशिश करें कि पूरी बकाया रकम भर दें।

ईएमआई में बदलें : अगर आपको बकाया राशि को एक ही बार में भरना मुश्किल लग रहा है तो आप क्रेडिट कार्ड कंपनी से कहिये कि बकाया रकम को ईएमआई में बदल दें, जिसका ब्याज पेनल्टी और साधारण क्रेडिट कार्ड के ब्याज से कम ही होता है। ईएमआई में बदलने पर एक प्रतिशत तक प्रोसेसिंग फीस क्रेडिट कार्ड कंपनियां लेती हैं। ब्याज दर 18 से 24 प्रतिशत वार्षिक तक हो सकती है, जो कि 36-48 प्रतिशत साधारण ब्याज से बहुत कम होता है।

बैलेन्स ट्रांसफर : अगर आप एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड उपयोग कर रहे हैं और दूसरे क्रेडिट कार्ड कंपनी वाले कम ब्याज ले रहे हैं तो आप पहले क्रेडिट कार्ड से दूसरे में बैलेन्स ट्रांसफर कर सकते हैं, जिसके लिए कंपनियां कुछ फीस लेती हैं।

आँखें खोलकर खर्च करें : जब भी क्रेडिट कार्ड का स्टेटमेंट आये हमेशा पैनी निगाहों से एक एक खर्च और जमा को देखें, क्योंकि कई बार इसमें तकनीकी त्रुटि भी होती है। बिल में हमेशा आखिरी दिनांक देखें और ध्यान रखें कि अगर उसके बाद आप बकाया रकम जमा करते हैं तो लेट पैमेन्ट फीस और उतने दिन का ब्याज भी लग जाएगा। कोशिश करें कि बिल के आखिरी दिन के तीन दिन पहले ही बिल भर दें। आजकल NEFT से भुगतान करने पर उसी दिन भुगतान हो जाता है।

खर्च करने के तरीके : हमेशा अपने क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट में देखें कि आपने किस तरीके से कहां-कहां खर्च किया है और किन खर्चों को कम किया जा सकता है। अगर बाहर खाने पर और बाहर घूमने फिरने पर ज्यादा खर्च हो रहा है तो आप उन पर लगाम लगाकर अपने घरेलू बजट को काबू में ला सकते हैं और अपनी बचत बढ़ा सकते हैं।

ज्यादा खर्च करना : अगर क्रेडिट कार्ड आपके बटुए में हो तो इसका मतलब कि आपकी जेब में पूरी दुनिया है। कई बार हम लालच में बहुत सी खरीददारी करना चाहते हैं जिसकी अभी जरूरत नहीं है। ऐसी खरीददारी को हमेशा थोड़े दिनों के लिए टाल देना चाहिए, इससे आपको सही खरीददारी करने के निर्णय को लेने में मदद मिलती है।

अंतरराष्‍ट्रीय उपयोग : क्रेडिट कार्ड को देश के बाहर उपयोग करना कई बार महंगा साबित हो सकता है, क्योंकि अंतरराष्‍ट्रीय खरीददारी करते समय बहुत से शुल्क भी लगते हैं और मुद्रा विनिमय के 2-3 प्रतिशत एवं कुछ और शुल्क भी लागू होते हैं। अगर आप अपने क्रेडिट कार्ड को नगद निकालने में उपयोग करते हैं तो निकाली गई रकम का 2-3 प्रतिशत शुल्क भी लगता है। ध्यान रखें कि अगर आपके क्रेडिट कार्ड पर बहुत अधिक बकाया हो चुका है तो एकदम से कार्ड पर नई खरीददारी बंद कर दें। सोचें और इस बकाया राशि को जल्दी से जल्दी चुकाने की योजना बनायें। क्रेडिट कार्ड का उपयोग तभी करें जब वाकई जरूरत हो, केवल रिवार्ड पाइंट बनाने के लिए क्रेडिट कार्ड से खरीददारी करना ठीक नहीं।

(मोलतोल ब्यूरो; +91-75974 64665)




The Forex Quotes are powered by Investing.com.

Commodities are powered by Investing.com

Live World Indices are powered by Investing.com

मोलतोल.इन साइट को अपने मोबाइल पर खोलने के लिए आप इस QR कोड को स्कैन कर सकते है..