Friday May 25,2018

भारत का 15 मई 2018 का मौसम अनुमान

Published May 15, 2018 05:21:00   मोलतोल संवाददाता  

नई दिल्‍ली। एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर और इससे सटे भागों पर बना हुआ है। इसके प्रभाव से विकसित हुआ चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र इस समय पूर्वी राजस्थान पर है और इस सिस्टम से एक ट्रफ रेखा उत्तर प्रदेश, बिहार तथा पश्चिम बंगाल होते हुए नागालैंड तक बनी हुई है। इसके अलावा राजस्थान से महाराष्ट्र होते हुए उत्तरी तटीय कर्नाटक तक भी एक ट्रफ रेखा बनी हुई है।

पश्चिम बंगाल और इससे सटे भागों पर हवाओं में एक चक्रवाती सिस्टम सक्रिय है। साथ ही पूर्वी असम और इससे सटे नागालैंड पर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। रायलसीमा से दक्षिणी तमिलनाडु तक दो विपरीत दिशा की हवाएँ आपस में टकरा रही हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान पंजाब, हरियाणा, इससे सटे राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली-एनसीआर में भीषण आँधी और तूफान के साथ बादलों की गर्जना और हल्की वर्षा की गतिविधियां देखने को मिली।

जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी गरज के साथ कुछ स्थानों पर वर्षा हुई है। ऊंचे स्थानों पर बर्फबारी भी देखने को मिली है। एक-दो पर्वतीय राज्यों में एक-दो जगह ओलावृष्टि दर्ज की गई। केरल, कर्नाटक और पूर्वोत्तर राज्यों में पिछले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश हुई है। पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओड़ीशा में कुछ स्थानों पर जबकि आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, विदर्भ, राजस्थान और मध्य प्रदेश में एक-दो स्थानों गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड की गई।

पूर्वी मध्य प्रदेश में कुछ स्थानों पर लू का प्रकोप जारी रहा। पश्चिमी राजस्थान, विदर्भ, मध्य प्रदेश और ओड़ीशा के कुछ भागों में भी लू जैसे हालात बने रहे। जबकि विदर्भ में लू फिलहाल के लिए समाप्त हो गई है।

अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में गरज के साथ वर्षा जारी रहने की संभावना है। पंजाब और हरियाणा में बारिश की गतिविधियों में कमी आ जाएगी। हालांकि एक-दो स्थानों पर गरज के साथ बारिश जारी रहने के आसार हैं। दिल्ली-एनसीआर और उत्तर प्रदेश में गरज वाले बादल विकसित हो सकते हैं।

पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड में धूलभरी आँधी और बादलों की गर्जना के साथ प्री-मॉनसून बौछारें गिरने की संभावना है। कहीं-कहीं तूफानी हवाएँ चल सकती हैं। झारखंड, पश्चिम बंगाल और ओड़ीशा में गतिविधियां तेज़ होंगी और कुछ स्थानों पर बिजली गिरने की भी संभावना है।

नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में कई स्थानों पर गर्जना के साथ बौछारें गिर सकती हैं। मेघालय में मध्यम बारिश के साथ ओलावृष्टि होने और एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। अरुणाचल प्रदेश और असम के भी कुछ इलाकों में प्री-मॉनसून बारिश की गतिविधियां हो सकती हैं। कर्नाटक और केरल में प्री-मॉनसून वर्षा की गतिविधियां कम हो जाएंगी। जबकि पश्चिमी तमिलनाडु, दक्षिणी कर्नाटक और केरल में कुछ स्थानों पर हल्की और एक-दो स्थानों पर मध्यम बारिश जारी रह सकती है।


तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और उत्तरी कर्नाटक में तेज़ हवाओं और गर्जना के साथ कुछ स्थानों पर बारिश हो सकती है। पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, विदर्भ, मराठवाड़ा और दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र में गरज के साथ हल्की बौछारें गिरने के आसार हैं। पश्चिमी मध्य प्रदेश में एक-दो स्थानों पर लू चलाने की संभावना है। गुजरात और उत्तरी मध्य महाराष्ट्र में तापमान में वृद्धि हो सकती है।

दिल्ली में दिन बेहद गर्म होगा। बादलों की गर्जना होने के आसार हैं। मुंबई में मौसम शुष्क और गर्म बना रहेगा। कोलकाता में गरज और तूफानी हवाओं के साथ हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है। बंगलुरु में भी हल्की से मध्यम वर्षा जारी रहने की संभावना है। चेन्नई में गर्जना के साथ हल्की वर्षा हो सकती है। हैदराबाद में तेज़ हवाओं और गरज के साथ कुछ स्थानों पर हल्की वर्षा होने के आसार हैं।

(मोलतोल ब्‍यूरो; +91-75974 64665)




The Forex Quotes are powered by Investing.com.

Commodities are powered by Investing.com

Live World Indices are powered by Investing.com

मोलतोल.इन साइट को अपने मोबाइल पर खोलने के लिए आप इस QR कोड को स्कैन कर सकते है..