Friday March 24,2017

कितने तरह के होते हैं जीवन बीमा प्लॉन

Published Nov 05, 2016   विवेक रस्‍तोगी  

सभी लोग जीवन बीमा लेते हैं, लेकिन उन्हें पता ही नहीं होता है कि जीवन बीमा कितने प्रकार के होते हैं और उसके बीच क्या अंतर होता है। यहां आप संक्षेप में विभिन्न प्रकार के बीमा प्लॉन के बारे में समझ पाएंगे।

टर्म लाईफ पॉलिसी (Term Insurance) : जीवन बीमा यानि कि टर्म लाईफ पॉलिसी एक निश्चित समय अंतराल में बिना किसी बचत या लाभ के आपके जीवन को जोखिम से सुरक्षा देती है। एक निश्चित रकम या बीमित रकम निर्देशित नामित व्यक्ति को दे दी जाती है अगर बीमाधारक की पॉलिसी के समय में मृत्यु हो जाती है और अगर बीमाधारक को पॉलिसी के समय में कुछ नहीं होता है तो किसी को भी कोई भुगतान नहीं दिया जाता। क्योंकि यह एक शुद्ध जीवन बीमा है, जिनका प्रीमियम अन्य पॉलिसीयों से बहुत कम होता है।

एन्डोमेन्ट बीमा पॉलिसी (Endowment Plans) : एन्डोमेन्ट बीमा पॉलिसी जोखिम से सुरक्षा देने के साथ ही वित्तीय बचत का भी एक उत्पाद है। बीमाधारक को इस बीमा में दो फायदे हैं – अगर बीमा अवधि के अंदर बीमाधारक की मृत्यु हो जाती है तो नामित व्यक्ति को बीमा की रकम मिल जाती है और अगर बीमा अवधि में बीमाधारक को कुछ नहीं होता है तो बीमाधारक ने जो प्रीमियम जमा किया था उसके साथ ही उसके निवेशित उत्पाद बीमा पर बोनस भी मिलता है। अगर बीमाधारक की मृत्यु बीमे की अवधि में होती है तो नामित व्यक्ति को बीमित रकम दे दी जाती है और ध्यान रखें एन्डोमेन्ट बीमा प्लॉन उच्च प्रीमियम और शुल्कों पर कम बीमा के साथ उपलब्ध होते हैं।

संपूर्ण जीवन (Whole Life) : संपूर्ण जीवन पॉलिसी बीमा धारक को उसके पूर्ण जीवन काल के लिए बीमा देती है, जो कि नाम से भी विदित होता है। इस पॉलिसी में बीमा धारक को प्रीमियम कुछ निश्चित वर्षों तक भरना होता है और 100 वर्ष की उम्र इस पॉलिसी के लिए परिपक्वता अवधि होती है। अगर बीमाधारक 100 वर्ष से ज्यादा जीवित रहता है तो वह प्लॉन एन्डोमेन्ट पॉलिसी में बदल जाता है।

यूनिट लिंक्ड बीमा प्लॉन (ULIP) : यूलिप एन्डोमेन्ट बीमा का ही एक प्रकार है क्योंकि यह बाजार से जुड़े होते हैं और निवेश के लिए उत्पाद में भी गिने जाते हैं। साथ ही जीवन बीमा भी देते हैं, तो यूलिप के जरिये आप अपने निवेश को बाजार में लगा सकते हैं जिससे रिटर्न मिलने की उम्मीद ज्यादा होता है और साथ ही बीमा भी रहता है। यूलिप में आप अपने जोखिम का अनुपात खुद निश्चित कर सकते हैं कि कितने प्रतिशत आप इक्विटी में लगाना चाहते हैं जिससे कि अच्छा रिटर्न मिले और कितना प्रतिशत सुरक्षित निवेश उत्पादों में निवेश करना चाहते हैं यानि कि डेब्ट बाजार में। यूलिप को साधारणतया: लंबी अवधि के लक्ष्यों के साथ जोड़कर उपयोग किया जाता है, जैसे कि सेवानिवृत्ति, बच्चों की शिक्षा और बच्चों की शादी।

मनीबैक पॉलिसी (Money Back Plans) : मनीबैक भी एन्डोमेन्ट पॉलिसी का एक प्रकार ही है, जिसमें कि जीवन बीमा और निवेश के जरिये पैसे को इकट्ठा करना ही मुख्य उद्देश्य होता है, इस पॉलिसी में निश्चित अवधि और नियत समय पर कुछ निवेश का पैसा वापिस से निवेशक को लौटा दिया जाता है। अगर बीमाधारक अपनी पॉलिसी की अवधि में जीवित रहता है तो उसको बाकी बचा हुआ निवेश लौटा दिया जाता है और बीमाधारक की मृत्यु होने पर नामित व्यक्ति को बीमित रकम प्रदान कर दी जाती है।

एन्यूटी और पेन्शन प्लॉन (Annuities and Pension Plans) : इस तरह की पॉलिसी में बीमा कंपनी बीमित व्यक्ति को एक समय के बाद या सेवानिवृत्ति के समय निवेशित रकम से बनी निश्चित रकम जिसका वायदा उन्होंने किया था या सेवानिवृत्ति के बाद निश्चित पूर्व निर्धारित निश्चित समयावधि के बाद रकम देती रहती हैं। इससे निवेशक अपना सेवानिवृत्ति भी प्लॉन कर सकता है।

(मोलतोल ब्‍यूरो; +91-75974 64665)




The Forex Quotes are powered by Investing.com.

Commodities are powered by Investing.com

Live World Indices are powered by Investing.com

मोलतोल.इन साइट को अपने मोबाइल पर खोलने के लिए आप इस QR कोड को स्कैन कर सकते है..