Wednesday July 26,2017

भारतीय जीरे के लिए अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में अच्‍छी संभावना : योगेश मेहता

Published Mar 11, 2017   मोलतोल संवाददाता  

फैडरेशन ऑफ इंडियन स्‍पाइस स्‍टेकहोल्‍डर्स के ट्रस्‍टी और आईएमसी चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्री के सह-अध्‍यक्ष योगेश मेहता का कहना है कि सरकार को मसालों का अंतरराष्‍ट्रीय कारोबार बढ़ाने के लिए गंभीरता से कदम उठाने चाहिए। नौ महीने बीत जाने के बावजूद मसाला बोर्ड के अध्‍यक्ष की नियुक्ति नहीं हुई है। मेहता ने मोलतोल डॉट इन से बातचीत में कहा कि वे अपने करियर में पहली बार जीरे का कैरी फारवर्ड शून्‍य देख रहे हैं। भारतीय जीरे के लिए अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में अच्‍छी संभावना है लेकिन सटोरियों पर लगाम लगनी जरुरी है। मेहता से हुई बातचीत के मुख्‍य अंश :

भारत से मसालों का इंटरनेशनल कारोबार बढ़ाने के लिए सरकार को किस तरह के कदम उठाने चाहिए ?

जब तक वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय मसाला बोर्ड में उच्‍च पद पर मसाला कारोबार से जुड़े अहम व्‍यक्ति को नियुक्‍त नहीं करता तब तक भारतीय मसालों का अंतरराष्‍ट्रीय कारोबार बढ़ने की संभावना काफी कम दिखती है। लगभग नौ महीने समाप्‍त हो गए हैं लेकिन अब तक मसाला बोर्ड के लिए मंत्रालय अध्‍यक्ष की नियुक्ति नहीं कर पाया है। यह स्थिति अच्‍छी नहीं है। मसाला बोर्ड के अध्‍यक्ष की नियुक्ति के अभाव में इंडस्‍ट्री कैसे मंत्रालय को अपनी दिक्‍कतें समझा सकती है और कैसे विकास हो सकता है।

नए जीरा सीजन में इसका निर्यात कैसा रहेगा ?

मेरे ख्‍याल से जीरे का निर्यात पिछले दो साल की तुलना में बेहतर रहेगा लेकिन सटोरिएं पूरे माहौल को खराब करते हैं। यदि हम वाकई किसानों और कारोबार का भला करना चाहते हैं तो एक्‍सचेंज को इन्‍हें रोकना चाहिए। मुझे कोई एक ऐसा उदाहरण बताइए जब वर्ष 2005 से आपने किसी किसान को करोड़पति बनते देखा हो। इसके विपरीत, समूचे भारत में आपको अनेक ऐसी पार्टियां मिलेंगी जिन्‍होंने बगैर कुछ किए यहां तक कि आयकर अदा करे बगैर धन बनाया है।

इंटरनेशनल मार्केट में भारतीय जीरे का प्राइस आउटलुक कैसा रहेगा नए सीजन में ?

फिर से वही बात दोहरा रहा हूं कि यदि सटोरियां अपने हितों के लिए गेम खेलता है तो जीरे का प्राइस आउटलुक देख पाना कठिन हो जाता है। लेकिन मुझे लगता है कि यह 2650-2900 अमरीकी डॉलर प्रति टन के बीच रहना चाहिए। मैंने दिसंबर तक का जीरा अमरीका को 2900 डॉलर प्रति टन पर बेचा है। जीरे की आयातक देशों से अच्‍छी मांग है और निर्यातक अपनी पोजीशन का बड़ा हिस्‍सा कवर कर रहे हैं। साथ ही खरीददार को भाव नीचे आने की उम्‍मीद नहीं लग रही है।

घरेलू बाजार में जीरे का प्राइस आउटलुक कैसा देखते हैं आप ?

जीरे के घरेलू दाम मजबूत बने रहने चाहिए। पूरी पाइपलाइन खाली है। मैंने अपने करियर में यह पहला मौका देखा है जब कैरी फारवर्ड लगभग शून्‍य है। आपको एक कमोडिटी रिपोर्टर के रुप में यह अहसास होना चाहिए एवं इस निष्‍कर्ष पर पहुंचना चाहिए कि जीरे के भाव क्‍या हो सकते हैं। पिछले पांच-सात साल से देखें तो हर कोई फसल का साइज अपने-अपने तरीके से बताता है और काफी अंतर देखने को मिलता है जिसके अपने कारण होते हैं। लेकिन मुझे लगता है कि केंद्र में शासित राजनीतिक दल को विधानसभा चुनावों में जो अच्‍छी जीत मिली है वह देश की अर्थव्‍यवस्‍था के लिए शुभ संकेत है।

(मोलतोल ब्‍यूरो; +91-75974 64665)




The Forex Quotes are powered by Investing.com.

Commodities are powered by Investing.com

Live World Indices are powered by Investing.com

मोलतोल.इन साइट को अपने मोबाइल पर खोलने के लिए आप इस QR कोड को स्कैन कर सकते है..