Monday September 25,2017

संपूर्ण भारत का 10 अगस्त 2017 का मानसून पूर्वानुमान

Published Aug 10, 2017   मोलतोल संवाददाता  

नई दिल्‍ली। मॉनसून की अक्षीय रेखा पंजाब से बंगाल की खाड़ी तक बनी हुई है। यह ट्रफ इस समय फिरोजपुर, दिल्ली, बांदा, डाल्टनगंज और बालासोर के आसपास के भागों को प्रभावित कर रही है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों पर बना हुआ है। दक्षिण-पूर्वी अरब सागर में कर्नाटक के दक्षिणी और केरल के उत्तरी तटीय भागों के पास भी चक्रवाती सिस्टम सक्रिय हो रहा है।

उत्तर भारत में जम्मू कश्मीर के पास एक नया पश्चिमी विक्षोभ आता दिखाई दे रहा है। यह सिस्टम इस समय पूर्वी अफगानिस्तान और इससे सटे उत्तरी पाकिस्तान पर है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य पाकिस्तान पर बना हुआ है। इसके अलावा एक अन्य चक्रवाती सिस्टम दक्षिणी पाकिस्तान और गुजरात के कच्छ क्षेत्र पर भी देखा जा सकता है।

मॉनसून का प्रदर्शन : पिछले 24 घंटों के दौरान मॉनसून सबसे अधिक सक्रिय दक्षिण-पूर्वी राजस्थान और दक्षिणी-पश्चिमी उत्तर प्रदेश पर रहा। इन भागों में मध्यम से भारी बारिश रिकॉर्ड की गई।

इसके अलावा पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़ के कुछ भागों, झारखंड, उड़ीसा, असम, अरुणाचल प्रदेश, दक्षिणी जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी मॉनसून सक्रिय रहा। इन भागों में मध्यम से भारी बारिश की दर्ज की गई। तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कोंकण गोवा, तटीय कर्नाटक और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शेष भागों में सामान्य रूप से सक्रिय मॉनसून के चलते कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड की गई।

पिछले 24 घंटों के दौरान चेरापुंजी में भीषण वर्षा हुई। यहाँ मौसम केंद्र ने 225 मिलीमीटर बारिश दर्ज की है। कूच बिहार में 141 मिलीमीटर, अतिरामपट्टिनम में 128, धर्मशाला में 118, क्योंझारगढ़ में 79 और झाँसी में 68 मिलीमीटर बारिश हुई है। देश के अन्य हिस्सों में मॉनसून मुख्यतः कमजोर रहा जिससे शुष्क मौसम देखने को मिला।

मॉनसून का संभावित प्रदर्शन और वर्षा : मॉनसून की सबसे अधिक सक्रियता अगले 24 घंटों के दौरान अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में होगी। इन भागों में कई जगहों पर मध्यम से भारी बारिश दर्ज की जा सकती है।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश और इसके तराई क्षेत्रों, बिहार, छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, उत्तरी तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में मॉनसून सक्रिय रहेगा और इसके चलते इन भागों में अच्छी वर्षा होने के आसार हैं।

पूर्वोत्तर भारत के शेष भागों, ओडिशा, झारखंड, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, जम्मू कश्मीर, कोंकण गोवा, तटीय कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में सामान्य मॉनसून के चलते हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। देश के बाकी हिस्सों में मॉनसून में सुस्ती देखने को मिल सकती है।

(मोलतोल ब्‍यूरो; +91-75974 64665)




The Forex Quotes are powered by Investing.com.

Commodities are powered by Investing.com

Live World Indices are powered by Investing.com

मोलतोल.इन साइट को अपने मोबाइल पर खोलने के लिए आप इस QR कोड को स्कैन कर सकते है..