Thursday April 26,2018

ज्योतिष और फिल्म का नाम

Published Mar 30, 2018 06:30:00   मोलतोल संवाददाता  

फिल्म के नाम में ज्योतिष के महत्व से सभी परिचित है। इस संबंध में सुप्रसिद्ध ज्योतिषी भरत शर्मा का कहना है कि नाम के प्रथम अक्षर में ज्योतिष का प्रयोग ही पर्याप्त नहीं होता बल्कि संपूर्ण नाम में ज्योतिष की दृश्टि से अन्य महत्वपूर्ण बातों का भी ध्यान रखना चाहिए। किसी फिल्म के नाम में सदैव कुछ बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए। यथा फिल्म के निर्माण के समय के मुहुर्त एवं रिलीज के संभावित समय पर सबसे पहले विचार किया जाना चाहिए। इस दौरान फिल्म की कहानी की प्रकृति और ग्रहों की स्थिति के आधार पर उसका नाम रखा जाना चाहिए।

संदेश प्रधान फिल्मों का नाम गुरु की राशि के अनुकूल रखा जाना चाहिए। सामाजिक सरोकार और सामाजिक मुद्दों वाली फिल्मों का नाम शनि की राशि से संबंधित रखा जाना चाहिए। इसी तरह सूर्य और चन्द्र के द्वारा समसामयिक विषयों पर बनी फिल्मों की सफलता और असफलता तय होती है। मंगल की स्थिति से एक्‍शन की मांग और विदेशी व्यापार की संभावना देखी जाती है और बुध की स्थिति से नवीन प्रयोग की फिल्में सफल या असफल होती देखी जाती है। इसी तरह राहु व केतु की स्थिति से डरावनी फिल्में और शुक्र की स्थिति से फिल्म का वैभव, बजट, वितरण और दर्शकों का रुख प्रभावित होता देखा जाता है।

सबसे पहले यह ध्यान रखा जाना चाहिए कि फिल्म का नाम सरल और सरस होना चाहिये जो नाम हर भाषा, हर वर्ग और हर क्षेत्र का व्यक्ति ना सिर्फ अपनी जबान पर आसानी से ले सके बल्कि उसे याद रख सके, वही नाम उचित होता है और ऐसी फिल्में दर्शकों द्वारा बेहद पसंद की जाती है। जिस फिल्म का नाम कठिन होगा, अस्पष्ट होगा, द्विअर्थी होगा, तारतम्य की कमी होगी उन फिल्मों को दर्शक कम मिल पाते है। इसी तरह नाम रूचिकर और आकर्षण होना चाहिए। अरूचिकर और अनाकर्षक नाम वाली फिल्मों में चाहे कितना ही बड़ा बजट क्यों ना हो कलेक्शन में कमी देखी जाती है। अगर इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखा जाए तो कई ज्योतिषीय बातों की अपने आप पालना हो जाती है।

फिल्म के नाम के प्रथम अक्षर में निर्माता व निर्देशक की राशि और प्रमुख कलाकार की राशि देखी चाहिए। ध्यान रखें केवल प्रथम अक्षर में ही नहीं वरन संपूर्ण नाम में ज्योतिषीय नियमों का पालन आवश्यक होगा। संपूर्ण नाम संभावित रिलीज के समय के आधार पर रखा जाना सर्वाधिक उपयोगी होता है। किन्तु अधिकतर मामलों में फिल्म के नाम तय करने तक रिलीज के समय का कोई ज्ञान नहीं होता तो ऐसी स्थिति में निर्माण के मुहुर्त के समय की ग्रह स्थिति के आधार पर भी रखा जा सकता है। अगर नाम के रजिस्ट्रेशेन के समय निर्माण का मुहुर्त भी तय ना हो पाए तो ऐसी स्थिति में केवल यह ध्यान रखें की फिल्म का नाम सरल, सरस, रूचिकर और आकर्षक हो और उसके एक से अधिक शब्द होने पर उनमें तारतम्य हो। तय किए गए नाम के अनुसार, बाद में, मुहुर्त और रिलीज का समय तय किया जा सकता है।

(मोलतोल ब्‍यूरो; +91-75974 64665)




The Forex Quotes are powered by Investing.com.

Commodities are powered by Investing.com

Live World Indices are powered by Investing.com

मोलतोल.इन साइट को अपने मोबाइल पर खोलने के लिए आप इस QR कोड को स्कैन कर सकते है..